home remedies for Cough in Babies, children and infants

क्या आपके पारिवारिक स्वास्थ्य में बदलाव आया है? क्या आप जानना चाहते हैं कि बच्चे की खांसी के लिए सबसे अच्छी बात क्या है?
क्या आप बच्चों और शिशुओं के लिए खांसी के घरेलू उपचार की तलाश कर रहे हैं?
क्या आप जानना चाहते हैं कि बच्चे की खांसी के लिए सबसे अच्छी बात क्या है?
क्या आपको बच्चों के लिए उपयोगी शीतकालीन उपचार की आवश्यकता है?
तो, आज मैं इस लेख में शिशुओं में खांसी के लिए कुछ सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों के बारे में बताने जा रहा हूं।
बच्चों को ठंड लगना आम बात है और ज्यादातर माता-पिता यह जानते हैं। इसलिए, वे अपने छोटे बच्चों को ठंड के प्रभाव से दूर रखने की पूरी कोशिश करते हैं। लेकिन, कभी-कभी ठंडी हवाएं भी बच्चों को परेशान करती हैं। ऐसे में माता-पिता का परेशान होना लाजमी है।
छोटे बच्चों के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित होना स्वाभाविक है। यदि आपका बच्चा तीन महीने से कम उम्र का है, तो उसे केवल ठंड लगने के लक्षणों को डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए, लेकिन अगर उसकी उम्र तीन महीने से अधिक है, तो आप उसका इलाज शुरुआती लक्षणों में घर पर ही कर सकते हैं। इसके लिए शिशुओं में कोल्ड के कुछ घरेलू उपचार भी आजमाए जा सकते हैं।
शिशुओं में खांसी के लिए 8 सबसे प्रभावी घरेलू उपचार
1. हल्दी:
शिशुओं में खांसी के लिए एक घरेलू उपाय के रूप में, हल्दी का एक छोटा टुकड़ा लें और इसे मोमबत्ती या छोटी लौ में हल्के से जलाएं। इसके बाद जले हुए मिर्च पाउडर को बच्चे के लिए एक मिनट तक सूंघें। चिंता न करें, यह धुआं एक पतले धागे की तरह है, इसलिए बच्चे को इससे कोई खतरा नहीं होगा। याद रखें कि दो साल से ऊपर के बच्चों को हल्दी वाला दूध दिया जा सकता है। यह बच्चों की सर्दी-खांसी को ठीक करने का अच्छा तरीका है।
2. लहसुन:
लहसुन की दो कलियों को छीलकर 10 मिनट के लिए 50 मिलीलीटर पानी में छोड़ दें। इस पानी को ठंडा करने के बाद, अपने जिगर के टुकड़े को 2 बूंद दें। इस पानी को हर 2-3 घंटे में पीने को दें, फिर बच्चे को सर्दी खांसी से राहत मिलेगी। लेकिन ध्यान रखें कि यह पानी 4 साल से अधिक उम्र के बच्चों को दिया जाना चाहिए। यह उपाय बच्चों की खांसी की समस्या को तुरंत ठीक कर सकता है।
3. अदरक:
अदरक बंद नाक और बलगम में बहुत उपयोगी है। अदरक का एक छोटा टुकड़ा लें और इसे गर्म पानी में 10 मिनट के लिए ठंडा होने के लिए रख दें। इस पानी को पीने के लिए 2 साल से ऊपर के बच्चों को दिया जा सकता है। बच्चों में खांसी के लिए लहसुन सबसे अच्छा घरेलू उपचार है
4. सरसों का तेल:
भुने हुए लहसुन और अजवाइन (Ajwain) के बीज के साथ 5-10 चम्मच सरसों का तेल भूनें। ठंडा होने के बाद इसे छानकर बोतल में भर लें। जब भी आपको लगे कि बच्चों को खांसी होने लगी है, तो इसे हल्के हाथों से अपने माथे, गर्दन और छाती पर मालिश करें। बेचैनी से तुरंत आराम मिलने लगेगा। सरसों का तेल शिशुओं में खांसी के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है।
5. कपूर (कपूर):
शिशुओं में खांसी के घरेलू उपाय के रूप में, थोड़ा सा कपूर पाउडर लें और इसे थोड़े से नारियल के तेल में गर्म करें। इस तेल को ठंडा करें और अपनी हथेली पर चार से पाँच बूँदें लें और इस मालिश को अपने छोटे बच्चे की छाती पर मालिश की तरह करें। ध्यान रखें कि कपूर की मात्रा बहुत अधिक नहीं है क्योंकि कुछ बच्चों में त्वचा की एलर्जी हो सकती है। बच्चों में ठंड के लिए कैम्फर सबसे अच्छा घरेलू उपचार है।
6. तुलसी (तुलसी) पत्तियां:
तुलसी के पत्तों में बहुत औषधीय गुण होते हैं। पुरानी खांसी को ठीक करने के उपाय के रूप में, बच्चों को किसी भी रूप में पानी या दूध पिलाया जा सकता है। तुलसी के कुछ पत्तों को पानी में भिगोकर एक घंटे के लिए रख दें और 2 साल से ऊपर के बच्चों को इसे पीने के लिए दिया जा सकता है।
7. हनी:
शिशुओं में ठंड के लिए शहद को घरेलू उपचार के रूप में भी अपनाया जा सकता है। एक वर्ष से ऊपर के बच्चों को दूध में आधा चम्मच शहद मिलाकर प्रतिदिन दो बार दिया जा सकता है।
8. स्टीम:
शिशुओं में खांसी के लिए भाप सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है। कई बच्चों को कभी भाप नहीं दी जाती है जैसे कि हम इसे एक वयस्क को देते हैं। इसके लिए, आपको कमरे में बाथटब या बाथरूम में बाथटब को गर्म पानी से भरना चाहिए। इस तरह, एक छोटे बच्चे को अपनी बाहों में लें और भाप के वातावरण में खड़े हों। इससे छाती में जमा बलगम आसानी से ढीला हो सकता है। ठंड और खांसी में नौ शिशुओं को आराम मिलने की संभावना है।

You May Also Like

About the Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *